19 अगस्त, 2013

सेवा में
माननीय डा. योगेश दब
ू े
सदस्य,
राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग
नई ददल्ली
ववषय – मममसल संख्या: UP/303/44321/2012 -13 RTE /17764 के सन्दर्भ में
महोदय,
5 अक्तूबर 2102 को The Times of India Varanasi

में School Lack basic facilities despite SC Order headeline से

प्रकाशित खबर जिसमें सरकारी विधालय में पीने के पानी, िौचालय, तथा स्िच्छता के बुननयादी संसाधनो के आभाि
के सन्दभभ में शिकायत क ययी थी | इस सन्दभभ में रा० बाल० अधध० संर०आयोय प्रोिेक्ट कोआर्डभनेटर श्री.अिय
कुमार आयोय को सम्बोधधत सुश्री ममता श्रीिास्ति (संयुक्त सधचि उत्तर प्रदे ि िासन) क

ररपोटभ क

प्रनत

शिकायतकती को आयोय द्िारा प्राप्त हुई |
इस सन्दभभ में शिकायतकती आप महोदय को यह महत्त्िपर्
ू भ तथ्य बताना चाहती है कक बेशसक शिक्षा अधधकारी
िारार्सी, महोदय क ररपोटभ अधूरी एिं सत्यता से दरू है | विददत हो क उपरोक्त समाचार पत्र में िारार्सी के आठ
ब्लाकों के विशभन्न विद्यालयों में संसाधनो क कमी और समस्याओं से सम्बजन्धत ररपोटभ पर सुधार क अपेक्षा से
शिकायत क ययी थी | ककन्तु बेशसक शिक्षा अधधकारी िारार्सी, महोदय

द्िारा केिल उन ही विद्यालयों क जस्थनत

क ररपोटभ आयोय के समक्ष प्रस्तुत क ययी है जिनका समचार पत्र में उदाहरर् के शलए सन्दभभ शलया यया था | इस
सन्दभभ में 27 िल
ु ाई 2013 को चौकाघाट, निापरु ा नक्खी घाट, घौसाबाद, िैतपरु ा, नाटी इमली, एिं 31 िल
ु ाई 2013
को वपसनहररया, मलददहया, तेशलयाबाय, के प्राथशमक विधालयों का मानिाधधकार िनननयरानी सशमनत के दो सदस्यों
(श्रुनत नायिंिी एिं आनन्द प्रकाि ) द्िारा भ्रमर् ककया यया | इस दौरान यह ज्ञात हुआ क इन विधालयों के सन्दभभ
में प्रस्तुत ररपोटभ में पूरी सत्यता नही है विभाय द्िारा बबना तथ्यों क िााँच ककये यह ररपोटभ अग्रसाररत क ययी है
एिं आयोय को अाँधेरे में रखने के प्रयास के साथ ही शिक्षा अधधकार अधधननयम एिं माननीय सुप्रीमकोटभ के आदे िों
क भी अिहे लना क ययी है | ितभमान में भी विशभन्न कारर्ों से इन विधालयों में पीने के पानी क कमी, िौचालय
में यन्दयी, िौचालय में ताला बंद रहना, सफाई सम्बजन्धत अन्य साधनों का उपलब्ध न होने िैसी समस्या से ग्रस्त
हैं |
समाचार पत्र में सन्दभभ में शलए यये प्राथशमक विधालयों में भ्रमर् के बाद ररपोटभ एिं फोटो आप महोदय को प्रेवित
ककया िा रहा है कृपया संज्ञान में लेकर उधचत कायभिाही करें |

ररपोर्भ का संक्षक्षप्त सार – जिन प्रा० वविालयओं की मशक्षा ववर्ाग द्वारा ररपोर्भ दी गयी है उन सर्ी वविालयओं में
शौचालय एवं पीने के पानी की जस्ितत अर्ी बहुत र्यावह जस्ितत में है |
इन विधालयओं में पीने के पानी के संग्रहर् क कोई व्यिस्था नही है , विधालय में

भ्रमर् के समय (9.30-12 बिे

के दौरान) हमने दे खा कक िौचालय में ताला बंद है ऐसे में बच्चे उसका उपयोय कैसे कर पाते है यह अपने आप में
सिाल खड़ा करता है ? िौचालयों में बहुत यंदयी थी, उनमे पानी, साबुन क कोई सुविधा नही है | पीने का पानी एिं
िौचालय क स्िच्छता के शलए कंही भी साधन उपलब्ध नही होने से जस्थनत बहुत ही भयािह और संक्रमर् युक्त है |
. भ्रमर् ककये यये आठ विधालयओं में केिल नाटी इमली धूपचंडी प्रा० विधालय में पानी पीने के शलए टं क और टं क
से िोडकर चार नल लयाये यये थे िेि सात स्थानों पर पीने के पानी क उपलब्धता का विशभन्न रूपों में संकट है |
अधधकत्तर विधालय पानी के शलए है न्डपम्प पर ननभभर हैं यह है न्डपम्प भी कई विधालयों में खराब जस्थनत में है |
विधालय में ननजचचत समय तक ही िलकल विभाय से पानी आने और पानी संग्रहर् क व्यिस्था नही होने से बच्चो
को पीने के पानी का संकट का सामना करना पड़ता है | (विस्तत
ृ ररपोटभ दे खें)
कुछ विधालयओं में हाल में ही टाइल्स लयाया यया लेककन सभी में िौचालयों में ताला बंद रहता है | भ्रमर् के समय
हमें ताला खोलकर िौचालय को ददखाया यया | चौकाघाट प्रा० विधा० हाल में ही बनिाया यया है शिकायत के समय
यंहा ििभर विधालय था लेककन निीन विधालय में ताला बंद रहता है |
. कई िौचालय अस्िच्छ एिं संक्रामर् युक्त ददखाई ददए उनमे पानी क सुविधा, ओिरहे ड टं क , केन,या बाल्टी का
नही थी,

साथ इनमें साबुन क व्यिस्था भी नही था |

. कुछ विधालय के िौचालय में दरिािे विहीन या ििभर जस्थनत में थे |

राज्य पररयोिना तनदे शक (सवभ मशक्षा अमर्यान ऊ० प्र०)

श्री. पािभ सारिी सेन शमाभ द्वारा 11 अप्रैल 2012 के पत्र

पत्रांक : नन० का० / एसएसए /आ० सवु िधा के माध्यम से उत्तर प्रदे ि के सभी जिलो के बेशसक शिक्षा अधधकाररयो को
पररिदीय प्राथशमक ि उच्च प्राथशमक विधालयों में ननशमभत िौचालय के सन्दभभ में ननददेश ि िारी ककया है | इस पत्र में
स्पष्ट रूप से विधालय में िौचालय में सुविधाओं को ददए िाने का ननददेश ि ददया है | (संलग्नक दे खें) BSA िारार्सी
द्िारा राज्य पररयोिना ननदे िक (सिभ शिक्षा अशभयान ऊ० प्र०) के ननददेश ि को निरांदाि ककया िा रहा है |

27 एवं 31 िुलाई 2013 को प्रािममक वविालय चौकाघार्, घौसाबाद, नक्खीघार्, मलददहया, िैतपुरा, नार्ी इमली
िूपचंडी, तेमलयाबाग, वपसनहररया में भ्रमण कर ररपोर्भ एवं फोर्ो तैयार ककया गया -----

1 - प्राथशमक विधालय चौकाघाट (नयर क्षेत्र) -- प्राथशमक विधालय चौकाघाट नयर क्षेत्र में नामांककत
बच्चों क संख्या 98 , प्रधानाध्यापक श्री. िैभि यादि हैं 1 सहायक अध्यापक एिं 2 शिक्षाशमत्र क ननयुजक्त है |
िैसाकक जिला बेशसक शिक्षा अधधकारी द्िारा अपने ररपोटभ में बताया यया है क इस विधालय में ििभ 2102 – 13 में
2 निीन िौचालय ननशमभत ककया यया है यह तथ्य सत्य है | ककन्तु तथ्य पर भी वििेि ध्यान दे ने क आिचयकता है

5 अक्तूबर 2102 को अंग्रेिी भािा के दै ननक समाचार पत्र Times of India में प्रकाशित ररपोटभ में इसी विधालय

क फोटो छपी है जिसमें उस समय िौचालय क जस्थनत ििभर अिस्था में स्पस्ट ददखाई दे रहा है एिं बच्चे एक ही
नल से पानी पीने के शलए लाइन में खड़े हैं |
ििभ 2102 -13 में इस िौचालय के ठीक बयल में ही 2 निीन िौचालय बनाया यया है ककन्तु आि भी बच्चे पुराने
टूटे िौचालय जिसका दरिािा, फिभ एिं यमला टूटा है उसी का उपयोय करने को बाध्य हैं यह तथ्य फोटो दे खने से
स्पष्ट पररलक्षक्षत है | िौचालय के आसपास का फिभ आि भी सम्भितः धन क कमी के कारर् टूटा पड़ा है ककन्तु
यह बच्चो के शलए कभी भी खतरनाक हो सकता है |
2 निीन िौचालयों में हमेिा ताला लया रहता है , 27 िुलाई 2103 को ददन में12.30 बिे PVCHR कायभकताभ आनन्द
प्रकाि द्िारा शलए यये फोटो में भी स्पष्ट ददखाई दे रहा है कक निीन िौचालय में ताला बंद है जिससे आि भी यह
बच्चों के पहुंच से दरू है | (दे खें फोटो संख्या 1) िौचालय में
साबन
ु तौशलया आदद कुछ भी नहीं है | िहीं िौचालय के उपर
ओिरहे ड टं क आदद क सुविधा ददखाई नही दे रहा है
विददत हो कक श्री. पािभ सारिी सेन शमाभ राज्य पररयोिना
तनदे शक (सवभ मशक्षा अमर्यान ऊ० प्र०) द्वारा 11 अप्रैल 2012
को को पत्रांक : नन० का० / एसएसए /आ० सुविधा के माध्यम से
उत्तर प्रदे ि के सभी जिलो के बेशसक शिक्षा अधधकाररयो को
पररिदीय प्राथशमक ि उच्च प्राथशमक विधालयों में ननशमभत
िौचालय के सन्दभभ में ननददेश ि िारी ककया है | इस पत्र में स्पष्ट
रूप से विधालय में िौचालय में सुविधाओं को ददए िाने का ननददेश ि ददया है | ( कृपया पत्रांक का संलग्नक दें खे )
विधालय में 1 ही नल है िो खाना बनाने और बच्चों को पानी पीने दोनों के शलए प्रयोय में आता है , पानी क टं क
क कोई व्यिस्था नही है |

2 प्राथशमक विधालय घौसाबाद, नयर क्षेत्र -- प्राथशमक विधालय
घौसाबाद, नयर क्षेत्र में नामांककत बच्चों क संख्या 215 है यंहा के
प्रधानाध्यापक श्री. फौिीय तिीम हैं |
विधालय में कुल 3
िौचालय है , 2
िौचालय ििभ 2012-13
में नया बनिाया यया
है जिसमें अभी भी पुताई एिं साि सज्िा का काम नही हुआ है |
इसमे ताला बंद था जिसे हमें ददखाने के शलए थोड़े समय के शलए
खोला यया | एक िौचालय में पानी के अभाि में सफाई नहीं था
मल ऊपर ही ददखाई दे रहा है | पूिभ क भानतं यंहा भी ओिरहे ड
पानी क टं क नही है ना ही िौचालय में साबुन तौशलया आदद क
व्यिस्था है | (यह सभी तथ्य फोटो में स्पष्ट दे खा िा सकता है फोटो लेने का समय

27 िुलाई 2013 ददन 12.45

पर )
इस विधालय में पानी क समस्या है एक ही है ण्डपंप है िो खराब रहता है | है न्डपम्प के ररबोर के शलए कई बार
विभाय को पत्र शलखा यया है ऐसा हमें शिक्षक द्िारा

बताया यया लेककन अभी तक ररबोर नही हो सका था | एक

नल है जिसमे पानी ननजचचत अिधध के शलए आता है िब पानी नही आता है तब बाहर से पानी मंयाना पड़ता है ,
पानी क टं क नहीं |

3 प्राथशमक विधालय निापरु ा, नक्खीघाट, नयर क्षेत्र --- रे लिे लाइन के ककनारे चाहरदीिारी विहीन
प्राथशमक विधालय निापुरा नक्खीघाट में 200 बच्चे

नामांककत है यंहा

प्रधानाध्यापक श्री. अमानल
ु क ननयक्
ु त हैं |
विधालय में 2 िौचालय एिं 2 मूत्रालय है जिसमे से 3 िौचालय में
ताला बंद था िैसाकक फोटो में स्पष्ट ददखाई दे रहा है कक, 27 िुलाई
2013 को सब
ु ह 11.00
बिे िब यह फोटो शलया
यया तब विधालय के एक

शिक्षक ताला खोलकर हमें ददखाए पुन: ताला बंद कर ददए, केिल एक ही 1 िौचालय खुला था | शिक्षक महोदय
द्िारा हमें बताया यया क दो – तीन ददन पूिभ ही िौचालय में टाइल्स और नया यमला लयाने का काम पूरा हो यया
है | मूत्रालय का फिभ भी तािा बनाया यया था जिसे फोटो में स्पष्ट दे खा िा सकता है | सिभ शिक्षा अशभयान राज्य
पररयोिना ननदे िक के ननददेश सानुसार िौचालय में साबुन तौशलया पानी क सुविधा के शलए ओिरहे ड टं क आदद क
व्यिस्था नहीं है |
विधालय में एक है ण्डपम्प है जिससे पानी क सभी तरह क आिचयकताए पूरी क िाती है |

4 प्राथशमक विधालय मलददहया, नयर क्षेत्र – प्राथशमक विधालय
मलददहया, नयर क्षेत्र में

विधालय में 2 िौचालय एिं 2 मत्र
ू ालय है , दोनों िौचालय

और मूत्रालय में कामचलाऊ सफाई थी | एक िौचालय में दरिािा नहीं था तो दस
ु रे
िौचालय में िो दरिािा लया था िह बबल्कुल ििभर जस्थनत में है |
विधालय पररसर में 2 िौचालय नया बनिाया यया था जिसमे ताला बंद था इस
बारे में प्रधानाध्यापक ने बतायी कक हमारे घुटने में ददभ क शिकायत है अत: हम
शिक्षक लोय अपना व्यजक्तयत धन लयाकर अपने प्रयोय के शलए यह

िौचालय

बनिाये हैं |
विधालय में पानी के शलए एक है ण्डपंप और िलकल विभाय का एक नल है |

है ण्डपम्प खराब अिस्था में है ,

नल

में ननजचचत समय से पानी आता है जिससे विधालय पानी क समस्या बनी रहती है | (सभी तथ्यों के शलए 31िल
ु ाई
2103 सब
ु ह 10 बिे के समय क फोटो दे खें)

5 प्राथशमक विद्यालय िैतपुरा, नयर क्षेत्र -- प्राथशमक विधालय िैतपुरा नयर क्षेत्र में नामांककत बच्चों क
संख्या 150 है , यंहा प्रधानाध्यावपका सश्र
ु ी महिबीन बेयम क नननयजक्त है |
विधालय में 2 िौचालय
एिं 2 मूत्रालय है लेककन
सभी में ताला बंद था | 2
िौचालय जिसमे हाल में
ही टाइल्स लयिाया यया
है फोटो में स्पष्ट ददखाई
दे रहा कक िह भी

कक्रयािील जस्थनत में नही है | दोनों मूत्रालयो के फिभ टूटे

हुए, कंकड़ धयट्टी ि शमटटी से ढका हुआ था, सफाई

बबलकुल भी नहीं थी | पूिभ क भानत यंहा भी िौचालय में पानी, साबुन, तौशलया आदद क कोई व्यिस्था नही थी |
पानी के शलए केिल एक है ण्डपम्प है िो प्रयोय में है इसी से सभी आिचयकताए पूरी करने क बाध्यता है

| (सभी

फोटो 27 िुलाई 2013 ददन 10.30 पर )
इस विधालय क चाहरदीिारी छोटा होने और येट न होने के कारर् आरािकतत्ि विधालय पररसर में आकर यंदयी
फैलाते हैं |

6. प्राथशमक विधालय नाटी इमली ( धप
ु चंडी ) नयर क्षेत्र --- प्राथशमक विधालय नाटी इमली (धुपचंडी
नयर क्षेत्र) में नामांककत बच्चों क संख्या 188 है , प्रधानाध्यावपका रौिनआरा 5 शिक्षक एिं 4 शिक्षाशमत्र क ननयजु क्त
है , इस विधालय में प्राथशमक विधालय चौकाघाट को मिभ (शमलाया)
ककया यया है |
विधालय में 2 िौचालय एिं 2 मत्र
ू ालय है , विधालय पररसर जितना हर
भरा और सुन्दर है िौचालय उतना ही यंदा और संक्रमर्युक्त था |
सफाई बबलकुल नहीं थी िौचालय में सीिर िाम से काफ पानी इक्टठा
था | िहीं एक िौचालय में ताला बंद था | िौचालय प्रयोय के शलए
पानी क टं क ईट का बना था लेककन िह पूरी खाली टं क में ईट
पत्थरों पड़े थे | ( संलग्नक फोटो दे खकर स्ियं अनम
ु ान लयाया िा
सकता है सभी फोटो 27 िल
ु ाई 2013 ददन 11.30 पर)
विधालय में पानी पीने क व्यिस्था ठीक है , पीने के पानी के शलए टं क और टं क से िोडकर कई नल बनाये यये हैं
| 2 टं क ,4 नल, 1 है ण्डपम्प

है िो प्रयोय में है |

7. प्राथशमक विद्यालय तेशलयाबाय, नयर क्षेत्र – प्राथशमक विधालय तेशलयाबाय नयर क्षेत्र में 1 िौचालय है
िौचालय क जस्थनत ठीक थी िौचालाय में पानी क समस्या है पानी बाहर से टूल्लू लयाकर भरा िाता है | िौचालय
के प्रयोय के शलए 3-4 बड़े र्डब्बे में पानी को स्टोर करते हैं
|
विधालय में एक है ण्डपंप एिं एक नल है नल टूटा हुआ है
है ण्डपम्प बबल्कुल खराब है इसके शलए प्रधानाध्यापक ने

कई बार शलखखत शिकायत विभाय को ददया है लेककन कोई कायभिाही नहीं हुआ िैसाकक प्रधानाध्यापक ने हमें बताया |

8. प्राथशमक विद्यालय, वपसनहररया, नयर क्षेत्र -- विधालय में 2 िौचालय एिं 2 मूत्रालय है , एक
िौचालय में दरिािा नहीं है िंहा टुटा हुआ टे बल का पटरा रख कर पदाभ
ककया िाता है | एक मूत्रालय में दरिािा है ककन्तु िह भी ििभर अिस्था है
दस
ू रे िौचालय एिं मूत्रालय में ताला बंद था | पानी क समस्या िौचालय में
है एक है ण्डपम्प लया है लेककन िह भी खराब हो चुका है | मूत्रालय और
िौचालय में अत्यधधक यंदयी ददखाई दी |
विधालय पररसर में एक बड़ा पानी का टं क है लेककन पम्प खराब होने के
कारर् पानी क बहुत समस्या है |
शिक्षक अपना पैसा लया कर पानी का कनेक्िन लेने के शलए तैयार है , लेककन
कनेक्िन नहीं शमल पा रहा है |
ररपोटभ द्िारा – आनन्द प्रकाि एिं श्रुनत नायिंिी (मानिाधधकार िनननयरानी
सशमनत िारार्सी)

भिदीया

श्रुनत नायिंिी

(मैनेजिंय ट्रष्टी)

Sign up to vote on this title
UsefulNot useful