बडे काम की चीज है घरे लू नुसखे

नई ििलली,

जागरण नयूज नेटवकक :

हमारे िे श मे सिियो से सवासथय संबंधी छोटी-मोटी समसयाओं के िलए बडे बुजुगो के बताए घरे लू

नुसखे इसतेमाल मे आते रहे है । इनकी जानकारी परं परा मे एक पीढी से िस
ू री पीढी को िमलती थी। लेिकन इस आधुिनक और नयूििलयर
फैिमली के युग मे जबिक िकसी के पास फुसत
क नहीं है ऐसा लगता है हम इन नुसखो को जैसे भूलाते जा रहे है । लेिकन ये नुसखे न िसफक बेहि
कारगर और िकफायती सािबत होते है , इनका कोई साइड नहीं होता।

नािरयल के तेल मे लौग के तेल की कुछ बूंिो को िमलाकर िसर पर मािलश करने से िसरििक ठीक हो जाता है ।

हरी इलाइची को आग मे जलाकर राख बना ले। इसे शहि मे िमलाकर खाने से उलटी और िमतली से राहत िमलती है ।

िांत मे ििक हो रहा हो तो रई मे लौग के तेल की तीन-चार बूि
ं डालकर ििक वाले िहससे पर रखे। राहत िमलेगी।

पयाज के रस मे शहि को िमलाकर खाने से खून की कमी िरू होती है ।

खाना न पचता हो तो पयाज के रस मे थोडा सा नमक िमलाकर खाएं।

गिठया के ििक मे पयाज के रस की मािलश करने से आराम िमलेगा।

हाई बलड पेशर को कम करने के िलए कचची पयाज का सेवन करना चािहए।

शरीर के िकसी िहससे मे कांटा चुभने पर उसमे हींग का घोल लगाएं। थोडी िे र मे कांटा िनकल आएगा।

कबज होने पर हींग के चूणक मे थोडा सा मीठा सोडा िमलाकर रात मे फांक ले।

चेहरे पर झाइयां और झुिरक यां पड़़ गई हो तो जायफल को पानी या िध
ू मे िघसकर लगाएं।

झाइयां होने पर पयाज के बीजो को पीसकर शहि मे िमलाएं। इस लेप से चेहरे पर धीरे -धीरे मािलश करे । इस पििया को तीन चार बार
करे । चेहरे पर फकक नजर आएगा।

नशे मे धुत िकसी का नशा उतारना हो तो उसे पयाज का रस िपला िे । इससे नशा काफी काम हो जाएगा।

तुतलापन को िरू करने के िलए रात मे सोने से पहले िो गाम भुनी िफटकरी मुंह मे रखे।

जोडो पर नीम के तेल की मािलश करने पर आराम िमलता है ।

लौकी का गूिा पैर के तलवे पर मलने से उसमे होने वाली जलन मे आराम िमलता है ।

अमरि के पतो का काढा बनाकर कुलला करने से मुंह के छालो और मसूडो के ििक से आराम िमलता है ।

पितििन एक िगलास गाजर का जूस पीने से शरीर मे खून बढता है । साथ ही आंखो की रोशनी भी बढती है ।

पितििन पांच लहसुन की किलयो को खाने से हिय रोग का खतरा घटता है । यह बलड पेशर को िनयंिित करने मे भी मिि करता है ।

चेहरे पर नींबू को मलने से झाइयां कम होती है । इसके अलावा सेब खाने या इसका गूिा चेहरे पर लगाने से भी झाइयां िरू होती है ।

पेटििक होने पर भूनी हुई सौफ को चबाएं। ििक से राहत िमलेगी।

गले मे खराश होने पर सौफ को चबाने से बैठा गला साफ हो जाता है ।

नींबू के पतो का रस िनकाल कर सूंघ।े िसरििक मे तुरंत आराम िमलता है ।

चुटकी भर हींग को नींबू मे िमलाकर चूसने से िमगी के रोिगयो को लाभ होता है ।

खुजली होने पर नींबू मे िफटकरी का चूणक भरकर खुजली वाले सथान पर लगाएं। खुजली बंि हो जाएगी।

सूजन होने पर हलिी और चूने का लेप करने पर आराम िमलता है ।

एक चुटकी हलिी पितििन खाने से भूख बढती है और आंतो को भी फायिा पहुंचता है ।

िाि होने पर अखरोट का तेल लगाने से आराम िमलता है ।

बचचो का िबसतर गीला करने की आित को छुडाने के िलए रोजाना सोने से पहले िो अखरोट और 15 िकशिमश िखलाएं। 15 ििन तक
ऐसा करने पर बचचे की ये आित खुि छूट जाएगी।

अखरोट गमी करता है और कफ बढाता है । इसिलए एक बार मे पांच से जयािा न खाएं।

आजवाइन पाउडर को िही मे िमलाकर कर लगाने से मुहांसो से छुटकारा िमलता है ।

नहाने से पहले िसर मे पयाज का पेसट लगाएं। बाल काले होने लगेग।े

Sign up to vote on this title
UsefulNot useful