िसकस पैक एबस चािहए कया..

िहंदी िफलमो के दो सुपर सटार शाहरख और आिमर खान ने अपनी िफलमो के िलए िसकस पैक एबस कया बनाए, पूरे देश के युवाओं मे इसकी जबरदसत केज हो
गई। उनहोने ऐसा शरीर पाने के िलए भले ही िजम मे घंटो पसीना बहाया हो, रीयल लाइफ मे खान-पान को थोड़ा सा वयविसथत करके ऐसा शरीर बनाया जा
सकता है।
बाजील के शोधकताओं का कहना है िक अचछा सवासथय और बाडी िजम जाने से नही बिलक संतुिलत और पौिषक भोजन से िमलता है। उनका तो दावा है िक
ऐसा करके अिधक वजन की समसया से भी छुटकारा पाया जा सकता है। हालािक सेहतमंद बने रहने मे वयायाम की भूिमका को नकारा नही जा सकता।
िदन मे छह बार भोजन करे:
जलदी-जलदी मे हम अकसर नाशता या िदन का लंच िमस कर देते है। और जब भूख लगती है तो जो कुछ भी िमल जाए, उसे ही खा लेते है। जैसे समोसा,
िचपस या जंक फूड। शोधकताओं की सलाह है िक नाशता 8 बजे, 11 बजे के आसपास सनैकस वगैरह, एक बजे िदन का भोजन और शाम चार बजे चाय के
साथ हलका सनैकस िलया जा सकता है। ठीक दो घंटे बाद 6 बजे के करीब रात का भोजन कर ले। रात मे 9 बजे िफर हलका नाशता।
चुिनंदा भोजन से लगाव छोड़े:
आमतौर पर घर मे बचचो के िलए कई वयंजनो पर पितबंध रहता है। ऐसे मे आगे चलकर उनकी रिच कई भोजनो से हटती जाती है। अिभभावको को सलाह
है िक वे अपने बचचो को शुर से ही बादाम, बीस, साग, दूध और इससे बनी चीजे, जौ का आटा, अंडे, मकखन, जैतून का तेल आिद के पित रिच जगाएं।
जयादा से जयादा पेय पदाथर
पानी के अलावा मौसमी फल खूब खाएं। दूध से आपको जररी कैलोरी और काबोहाइडेट िमलता है। बेहतर होगा भोजन के अंतराल मे इनका जयादा से
जयादा सेवन करे। संतुिलत माता मे काफी और चाय भी फायदेमंद है। इसके अलावा खाने मे जयादा से जयादा माता मे रेशेदार खाद पदाथो को शािमल करे।

Sign up to vote on this title
UsefulNot useful