P. 1
Mata Ji Ke Bhajan_By Kamlesh

Mata Ji Ke Bhajan_By Kamlesh

|Views: 159|Likes:
Published by Kamlesh Maheshwari
Mata Ji Ke Bhajan
Mata Ji Ke Bhajan

More info:

Published by: Kamlesh Maheshwari on Feb 09, 2010
Copyright:Attribution Non-commercial

Availability:

Read on Scribd mobile: iPhone, iPad and Android.
download as PDF, TXT or read online from Scribd
See more
See less

11/11/2013

pdf

text

original

1

जय शे रावाली जय शे रावाली जय शे रावाली जय शे रावाली
जय मैहरा वाली जय मैहरा वाली जय मैहरा वाली जय मैहरा वाली
जय जयोता वाली जय जयोता वाली जय जयोता वाली जय जयोता वाली
जय लाटावाली जय लाटावाली जय लाटावाली जय लाटावाली
जय भवँरावाली जय भवँरावाली जय भवँरावाली जय भवँरावाली
जय छ]वाली दȣ जय छ]वाली दȣ जय छ]वाली दȣ जय छ]वाली दȣ
जय पहा जय पहा जय पहा जय पहाड़ा ड़ा ड़ा ड़ावाली वाली वाली वाली
जयकारा शेरां वाली दा जयकारा शेरां वाली दा जयकारा शेरां वाली दा जयकारा शेरां वाली दा
बोल सां चे दरबार कȧ जय बोल सां चे दरबार कȧ जय बोल सां चे दरबार कȧ जय बोल सां चे दरबार कȧ जय
माँ शेरां वािलये माँ मेहरां माँ शेरां वािलये माँ मेहरां माँ शेरां वािलये माँ मेहरां माँ शेरां वािलये माँ मेहरां वािलये वािलये वािलये वािलये
माँ लाडां वािलये माँ जोतां वािलये माँ लाडां वािलये माँ जोतां वािलये माँ लाडां वािलये माँ जोतां वािलये माँ लाडां वािलये माँ जोतां वािलये
ऊं चे पहाड़ां वािलये ऊं चे पहाड़ां वािलये ऊं चे पहाड़ां वािलये ऊं चे पहाड़ां वािलये
सांचा दरबार सांचा दरबार सांचा दरबार सांचा दरबार तेरा तू नहȣं तो तेरा तू नहȣं तो तेरा तू नहȣं तो तेरा तू नहȣं तो कौन मेरा कौन मेरा कौन मेरा कौन मेरा
कर दे कृ पा ऊं चे ऊं चे मं Ǒदरां वािलये कर दे कृ पा ऊं चे ऊं चे मं Ǒदरां वािलये कर दे कृ पा ऊं चे ऊं चे मं Ǒदरां वािलये कर दे कृ पा ऊं चे ऊं चे मं Ǒदरां वािलये
सारे बोले जय सारे बोले जय सारे बोले जय सारे बोले जय माता दȣ माता दȣ माता दȣ माता दȣ
जम के बोलो जय माता दȣ जम के बोलो जय माता दȣ जम के बोलो जय माता दȣ जम के बोलो जय माता दȣ
ήे म से बोलो जय माता दȣ ήे म से बोलो जय माता दȣ ήे म से बोलो जय माता दȣ ήे म से बोलो जय माता दȣ
जोर से बोलो जय जोर से बोलो जय जोर से बोलो जय जोर से बोलो जय माता दȣ माता दȣ माता दȣ माता दȣ
मɇ नई सुणे या जय माता दȣ मɇ नई सुणे या जय माता दȣ मɇ नई सुणे या जय माता दȣ मɇ नई सुणे या जय माता दȣ
Ǒफर से बोलो जय माता दȣ Ǒफर से बोलो जय माता दȣ Ǒफर से बोलो जय माता दȣ Ǒफर से बोलो जय माता दȣ
आवाज़ नई आई जय आवाज़ नई आई जय आवाज़ नई आई जय आवाज़ नई आई जय माता दȣ माता दȣ माता दȣ माता दȣ
िमल के बोलो जय माता दȣ िमल के बोलो जय माता दȣ िमल के बोलो जय माता दȣ िमल के बोलो जय माता दȣ
मन कȧ आं खɅ खोलो, जय माता दȣ बोलो . जय माता दȣ
2

1. मन तेरा मंǑदर आखɄ Ǒदया बाती मन तेरा मंǑदर आखɄ Ǒदया बाती मन तेरा मंǑदर आखɄ Ǒदया बाती मन तेरा मंǑदर आखɄ Ǒदया बाती, होटɉ कȧ थालीयाँ बोल फु ल पाती होटɉ कȧ थालीयाँ बोल फु ल पाती होटɉ कȧ थालीयाँ बोल फु ल पाती होटɉ कȧ थालीयाँ बोल फु ल पाती ||

रोम रोम ǔजåहा तेरा नाम पुकारती आरती ओ मैया आरती

ओ Ïयोतावाली ऐ माँ तेरȣ आरती.....२
हे महालΊमी माँ गौरȣ तु अपने आप है चारȣ

तेरȣ कȧमत तु हȣ जाने तु बुरा भला पहचाने

ये कहते Ǒदन और रातɅ तेरȣ िलखी ना जाये बातɅ
कोइ माने या ना माने हम भƠ तेरे Ǒदवाने ...२
तेरे पावँ सारȣ द

िनयाँ पखारती

मन तेरा मं Ǒदर आखɄ Ǒदया बाती, होटɉ कȧ थालीयाँ बोल फु ल पाती |
रोम रोम ǔजåहा तेरा नाम पुकारती आरती ओ मैया आरती ||

ओ Ïयोतावाली ऐ माँ तेरȣ आरती....
हे गुणवती सतवंती हे पदवती रसवंती
मेरȣ सुनना ये ǒवंनती मेरा चोला रं ग बंसती

हे द

खःभजंन सु खदाती हमे सुख दे ना Ǒदन रा]ी
जो तेरȣ मǑहमा गाये मुँह माँगी मु रादे पाये
हर आँख तेरȣ और िनहारती

मन तेरा मं Ǒदर आखɄ Ǒदया बाती, होटɉ कȧ थालीयाँ , बोल फु ल पाती |

3

रोम रोम ǔजåहा तेरा नाम पुकारती आरती ओ मैया आरती ||
ओ Ïयोतावाली ऐ माँ तेरȣ आरती.....२

हे महाकाल महाशƠȧ हमे दे दे ऐसी भƠȧ
हे जगजननी महामाया है तु हȣ धूप और छाया

तू अमर अजर अǒवनाशी तु अनिमट पू् ण[ मासी

सब करके द

र अं धेरे हमे बÈ¢ɉ नये सवेरे

तु तो भƠɉ कȧ ǒबगडȣ सँवारती

मन तेरा मं Ǒदर आखɄ Ǒदया बाती, होटɉ कȧ थालीयाँ बोल फु ल पाती ||

रोम रोम ǔजåहा तेरा नाम पुकारती आरती ओ मैया आरती
ओ Ïयोतावाली ऐ माँ तेरȣ आरती.....२
ओ तेरे पाँव सारȣ द

िनयाँ पखारती

औ लाटा वाली माँ तेरȣ आरती
औ हर आँ ख तेरȣ और िनहारती

औ Ïयोतावाली माँ तेरȣ आरती
औ तु तो भƠɉ कȧ ǒबगडȣ सँवारती......
_____________________________________

4


2 22 2. . . . जै माता कȧ जै माता कȧ सारे जै माता कȧ जै माता कȧ सारे जै माता कȧ जै माता कȧ सारे जै माता कȧ जै माता कȧ सारे बोलो बोलो बोलो बोलो.... .... .... ....६ ६६ ६

तेरे सदके तू भेज दे बुलावा , दोनɉ हाथɉ जोड के मɇ आऊ शेरावालीऐ
माँगू और Èया मɇ इसके अलावा , छोड के ना दर मɇ जाऊ शेरावालीऐ

शेरावाली मैहरा वाली जयोता वाली लाटावाली ....२

शेरावाली मैहरा वाली Ïयोता वाली लाटावाली ..६

धरती Èया आकाश हɇ Èया सब तेरे इशारɉ पर चलते हɇ

चाँद िसतारो के Ǒदपक भी तेरे नूर से हȣ जलते हɇ

हम बंदो कȧ ह·ती Èया हɇ तेरȣ दया पर हȣ पलते हɇ

शेरावाली मैहरा वाली Ïयोता वाली लाटावाली....२
तेरे सदके तू भेज दे बुलावा , दोनɉ हाथɉ जोड के मɇ आऊ शेरावालीऐ

शेरावाली मैहरा वाली जयोता वाली लाटावाली ....२

रोता आये हँसता जाये तेरे दर कȧ रȣत यहȣं है
जै माता कȧ जै माता कȧ ..४

िनत िनत तेरे दश[ न करना हम भƠɉ कȧ ήीत यहȣ हɇ

ǔजसको चाहे उसको बुलाये मɇया तेरȣ रȣत यहȣं हɇ
5


शेरावाली मैहरा वाली Ïयोता वाली लाटावाली

तेरे सदके तू भेज दे बुलावा , दोनɉ हाथɉ जोड के मɇ आऊ शेरावालीऐ
, दोनɉ हाथɉ जोड के मɇ आऊ शेरावालीऐ माँगू और Èया मɇ इसके अलावा , छोड के
ना दर मɇ जाऊ शेरावाली ऐ

शेरावाली मैहरा वाली जयोता वाली लाटावाली ....२


3 33 3. . . . तुम बसी हो कण कण अंदर तुम बसी हो कण कण अंदर तुम बसी हो कण कण अंदर तुम बसी हो कण कण अंदर , माँ हम ढु ढं ते रह गये मं Ǒदर मɅ माँ हम ढु ढं ते रह गये मं Ǒदर मɅ माँ हम ढु ढं ते रह गये मं Ǒदर मɅ माँ हम ढु ढं ते रह गये मं Ǒदर मɅ |
तुम बसी हो कण कण अंदर , माँ हम ढु ढं ते रह गये मं Ǒदर मɅ |

हम मूढमित हम अ£ानी , माँ सार तुàहारा Èया जाने ||

तेरȣ माया को ना जान सके , तुझको ना कभी पहचान सके |

हम मोह कȧ िनं]ा सोये रहे , माँ इधर उधर हȣ खोये रहे |

तु सुरज तु हȣ चं]मा , हम ढु ढं ते रह गये मं Ǒदर मɅ || तुम बसी हो कण कण अंदर

हर जगह तुàहारे डे रे माँ , कोइ खे ल ना जाने तेरे माँ |
इन नैनɉ को ना पता चले , Ǒकस ǽप मɅ तेरȣ Ïयोत जगे |

तु परवत तु हȣ समंदर माँ , हम ढु ढं ते रह गये मं Ǒदर मɅ || तुम बसी हो कण कण
6

अंदर

कोइ कहता तुàहȣ पवन मɅ हो , और तुàहȣ Ïवाला अगन मɅ हो |
कहते है अंबर और जमी , तुम सब कु छ हो हम कु छ भी नहȣं

फल फु ल तुàहȣ तǽवर माँ , हम ढु ढं ते रह गये मं Ǒदर मɅ || तुम बसी हो कण कण
अंदर

तुम बसी हो कण कण अंदर , माँ हम ढु ढं ते रह गये मं Ǒदर मɅ |

हम मूढमित हम अ£ानी , माँ सार तुàहारा Èया जाने ||

4 44 4. . . . नौरा]े नौरा]े नौरा]े नौरा]े माता के आये नौरा]े माता के जै हो नौरा]ै माता के माता के आये नौरा]े माता के जै हो नौरा]ै माता के माता के आये नौरा]े माता के जै हो नौरा]ै माता के माता के आये नौरा]े माता के जै हो नौरा]ै माता के
हो चेत महȣना और अƳन मɅ, आते माँ के नौरा]े
मुँह माँगा वर उनको िमलता, जो दर पे चलके आते
जय माँ, जय माँ - 2 हो आये नौरा]े माता के -4

आते है हर साल नौरा]े माता के
आये नौरा]े माता के जै हो नौरा]ै माता के

मɇ पूजूं हर साल नौरा]े माता के , आये नौरा]े माता के ...........आते..........

पहले नौरा]े माता खे]ी बीज के , माँ को जोत जगाओं - 2


जे नौरा]े मै या को, Üयार के साथ मनाओ,
नौरा]े माता के आये नौरा]े माता के जै हो नौरा]ै माता के ...............

7

Ǒफर तीजे नवरा] मात कȧ पूजा करते रहना - 2
जय माता कȧ - 2 ·वास ·वास है कहना, नवरा]ै माता के
नौरा]े माता के आये नौरा]े माता के जै हो नौरा]ै माता के

चौथा नौरा]ै फलदायक, वेदɉ ने गुण गाया है - 2
पंचम नौरा]ै ने पाÖडव, माँ का भवन बनाया नौरा]ै............

षƵी कȧ नौरा] मɇ Úयानूं माँ दश[ न पाया - 2
लाज भगत कȧ रख ली माँ, अकबर का मान घटाया

सƯमी के Ǒदन सात दे वीयाँ भƠɉ को वर दे ती है - 2
ऋǒƦ-िसǒƦ के खोल भÛडारे भƠɉ के घर भरती...............
नौरा]े माता के आये नौरा]े माता के जै हो नौरा]ै माता के

अƴमी का Ǒदन है Üयार कÛया पूजन कर लो - 2
माँ गौरȣ का दश[ न करके खाली झोली भर लो, नौरा]ै...............

पर नɋवी के Ǒदन मɅ भƠɉ, माँ के दश[ न पाओं - 2
शीश झुका के मै या के दर पे, जय माता कȧ गाओ, नौरा]े माता के
नौरा]े माता के आये नौरा]े माता के जै हो नौरा]ै माता के

5 55 5. . . . कभी कभी कभी कभी फु स[त हो तो जगदàबे फु स[त हो तो जगदàबे फु स[त हो तो जगदàबे फु स[त हो तो जगदàबे,
कभी फु स[ त हो तो जगदàबे,
िनध[ न के घर भी आ जाना ।
जो ǽखा सूखा Ǒदया हमɅ,
कभी इसका भोग लगा जाना ।।

8

ना छ] बना सका सोने का,
ना चुनरȣ तेरȣ िसतारɉ जड़ȣ ।
ना बफȽ न पेड़ा माँ ,
^Ʈा के नयन ǒवछाये खड़ा ।
इस अजȸ को न ठु कराना ।।
कभी...................

ǔजस घर के दȣये मɅ तेल नहȣं,
तेरȣ Ïयोित जगाऊँ माँ कै से ।
जहाँ मɇ बैठूँ वहाँ बैठ कर हे माँ,
बÍचɉ का Ǒदल बहला जाना ।।
कभी.......................

तू भाÊय बनाने वाली है ,
मɇ ह

ँ तकदȣर का मारा माँ ।
हे दाती सं भालो िभखारȣ को,
आǔखर तेरȣ आँ ख का तारा ह

ँ ।
मɇ दोषी तू िनदȾष है माँ,
मेरे दोषɉ को भुला जाना ।।
कभी...................





9

6 66 6. . . . मɇ मɇ मɇ मɇ माँगता तेरे दरबार दा माँगता तेरे दरबार दा माँगता तेरे दरबार दा माँगता तेरे दरबार दा
मɇ माँगता तेरे दरबार दा
खैर Üयार दȣ पादे दाती,
भुÈखा तेरे दȣदार दा ।
मɇ माँगता................

होर न मेरा कोई बाली,
मोड़ न माए दर तो खाली
नजर दया दȣ कर दे दाती
रो-रो वाजा मारदा...........

तेरा दर छÔड के Ǒकस दर जावां ,
Ǒकस नूँ जाके हाल सुनावां
कोई न मैनू नजर आवे,
हर कोई द

×कार दा.............
रानू तेरे दर दा िभखारȣ,
दश[ दे वो माँ आदकं वारȣ
ǒवच अदालत खड़ा मɇ तेरे ,
ठु कराया संसार दा..........मɇ मंगता.............






10

7. सात सात सात सात सहे िलयाँ खड़ȣ सहे िलयाँ खड़ȣ सहे िलयाँ खड़ȣ सहे िलयाँ खड़ȣ- -- -2, मैया को बुलावे घड़ȣ मैया को बुलावे घड़ȣ मैया को बुलावे घड़ȣ मैया को बुलावे घड़ȣ- -- -2

सात सहे िलयाँ खड़ȣ-2, मैया को बुलावे घड़ȣ-2
सात सहे िलया....................................

पहली सहे ली उठ कर बोली, मैया लाल कै से बनी ।
सारा जमाना मोपे चोला चढ़ावे ,
चढ़-2 चोला मɇ लाल बनी ।
सात सहे िलया....................................



जी सहे ली उठ कर बोली, मैया गौरȣ कै से बनी ।
सारा जमाना मोपे द

ध चढ़ावे,
नहाय द

ध से मɇ गौरȣ बनी ।
सात सहे िलया....................................

तीसरȣ सहे ली उठ कर बोली, मैया पीली कै से बनी ।
सारा जमाना मोपे हार चढ़ावै ,
चढ़-2 हरवा मɇ पीली बनी ।
सात सहे िलया....................................

चौथी सहे ली उठ कर बोली, मैया मीठȤ कै से बनी ।
सारा जमाना मोपे हलुवा चढ़ावै ,
चढ़-2 हलुवा मɇ मीठȤ बनी ।
सात सहे िलया....................................

11

पाँचवी सहे ली उठ कर बोली, मैया सुÛदर कै से बनी ।
सारा जमाना ^ृ ं गार करे ,
^ृ ं गार से मɇ सुÛदर बनी ।
सात सहे िलया....................................

छठȤ सहे ली उठ कर बोली, मैया द

ãहन कै से बनी ।
सारा जमाना मोपे चु Ûदरȣ चढावै ,
पहन चुÛदǐरया मɇ द

ãहन बनी ।
सात सहे िलया....................................

सातवी सहे ली उठ कर बोली, मैया दयालु कै से बनी ।
सारा जमाना मोये मै या कहवे,
मɇ तो दयालु ऐसे बनी ।
सात सहे िलया....................................
।। बोलेगा जयकारा होगा ।। बोलेगा जयकारा होगा ।। बोलेगा जयकारा होगा ।। बोलेगा जयकारा होगा िन·तारा ।। िन·तारा ।। िन·तारा ।। िन·तारा ।।

8 88 8. . . . हम हम हम हम बालक नादान मै या बालक नादान मै या बालक नादान मै या बालक नादान मै या, ते रȣ न सेवा जानɅ । ते रȣ न सेवा जानɅ । ते रȣ न सेवा जानɅ । ते रȣ न सेवा जानɅ ।
हम बालक नादान मै या, तेरȣ न सेवा जानɅ ।
सेवा न जानɅ मैया, भƠȧ न जाने - 2 ।।

सेवा तो जानɅ एक माली का लड़का ।
हरवा चढ़ाये िनत रोज, मैया तेरȣ सेवा न जाने
हम बालक...............................

12

सेवा तो जाने एक, बिनये का लड़का ।
नाǐरयल चढ़ावे िनत रोज, मैया तेरȣ सेवा न जाने
हम बालक...............................

सेवा तो जाने एक, हलवाइये का लड़का ।
भोग लगावे िनत रोज, मैया तेरȣ सेवा न जाने
हम बालक...............................

सेवा तो जाने एक, बजाज का लड़का ।
चुनरȣ चढ़ावे िनत रोज, मैया तेरȣ सेवा न जाने
हम बालक...............................

सेवा तो जाने एक, गढ़ǐरये का लड़का ।
बकरा चढ़ावे िनत रोज, मैया तेरȣ सेवा न जाने
हम बालक...............................

सेवा तो जाने एक, शराब वाले का लड़का ।
धार चढ़ावे िनत रोज, मैया तेरȣ सेवा न जाने
हम बालक...............................

सेवा तो जाने भƠɉ के लड़के ।
भजन सुनावे िनत रोज, मैया तेरȣ सेवा न जाने
हम बालक...............................

हम बालक नादान मै या, तेरȣ न सेवा जानɅ ।
13


।। बोलो कै ला मैया कȧ जय ।। ।। बोलो कै ला मैया कȧ जय ।। ।। बोलो कै ला मैया कȧ जय ।। ।। बोलो कै ला मैया कȧ जय ।।

9 99 9. . . . जलती जलती जलती जलती रहे शे रɉ वाली Ïयोित जलती रहे । रहे शे रɉ वाली Ïयोित जलती रहे । रहे शे रɉ वाली Ïयोित जलती रहे । रहे शे रɉ वाली Ïयोित जलती रहे ।
जलती रहे शेरɉ वाली Ïयोित जलती रहे ।

Ǒकसने मइया तेरा भवन बनाये , Ǒकसने ढु लायो ।
Ïयोित तेरȣ.................।।

भƠɉ ने मैया तेरा भवन बनायो, सेवक चमर ढु लायो ।
Ïयोित तेरȣ....................।।

सुआ-2 चोला मइया Úवजा नाǐरयल, तेरȣ हȣ भोग चढ़ायो ।
Ïयोित तेरȣ.................।।

धूप दȣप फल Úवजा नाǐरयल, तेरȣ भɅट चढ़ायो ।
Ïयोित तेरȣ.................।।

छÜपन भोग चौरासी åयंजन, तेरा हȣ भोग लगाओ ।
Ïयोित तेरȣ....................।।

नंगे -2 पैरɉ मैया अकबर आयो, सोने का छƣर चढ़यो ।
Ïयोित तेरȣ....................।।

दू र - 2 से या]ी आवɅ , आकर शीश नवायो ।
14

Ïयोित तेरȣ.....................।।

ΰǿ वेद पढ़े तेरे Ʈार शं कर Úयान लगायो ।
Ïयोित तेरȣ.....................।।

ऊँ चे पहाड़ɉ मइया वास तुàहारा, नीचे शहर बसायो ।
Ïयोित तेरȣ......................।।

आये ह

ये का मइया सं कट काटो खुशी मनाता जाय ।
Ïयोित तेरȣ.......................।।



10 10 10 10. . . . तु àहारा मǔÛदर हो तु àहारा मǔÛदर हो तु àहारा मǔÛदर हो तु àहारा मǔÛदर हो,
हे हे हे हे माँ मुझको ऐसा घर दो ǔजसमɅ तुàहारा मǔÛदर हो माँ मुझको ऐसा घर दो ǔजसमɅ तुàहारा मǔÛदर हो माँ मुझको ऐसा घर दो ǔजसमɅ तुàहारा मǔÛदर हो माँ मुझको ऐसा घर दो ǔजसमɅ तुàहारा मǔÛदर हो,
हे माँ मुझको ऐसा घर दो ǔजसमɅ तुàहारा मǔÛदर हो,
Ïयोित जले Ǒदन रै न तुàहारȣ, तुम मǔÛदर के अÛदर हो ।

हे माँ हे माँ हे माँ

एक कमरा हो Ûयारा, ǔजसमɅ आसन माँ का लगा रहे ,
हर पल, हर ¢ण भƠɉ का वहाँ आना जाना लगा रहे ।
छोटे बड़े का ऐसे घर मɅ माँ एक सàमान हȣ आदर हो ।।
Ïयोित जले......................
15


इस घर का हर एक ήाणी माँ तेरȣ मǑहमा गाता है ।
तू रख ले ǔजस हाल मɅ मैया हरदम खुशी मनाता है ।
कभी Ǒहàमत न हारे वो माँ चाहे समय भयंकर हो ।
Ïयोित जले..........................

इस घर से कोई भी सवाली खाली हाथ न जाये माँ
तब तक चैन न पाये बे टा, जब तक चैन न पाये माँ ।
मुझको दो वरदान दया का, तुम तो दया कȧ सागर हो ।
Ïयोितजले.........................

ऐसी बुǒƨ करना हे माँ, हम सब हरदम तेरȣ सेवा करे ,
चाहɅ द

र हȣ रखना माँ , सेवक मेरे पास रहे ।
सेवक पास रहɅ गे मैया, हम संकट से िनडर रहɅ ।
Ïयोित जले .............................

11 11 11 11. . . . Üयारा Üयारा Üयारा Üयारा सजा है ते रा Ʈार भवानी सजा है ते रा Ʈार भवानी सजा है ते रा Ʈार भवानी सजा है ते रा Ʈार भवानी
Üयारा सजा है तेरा Ʈार भवानी

दरबार तेरा दरबारɉ मं , इस खास अहिमयत रखता है ।
उसको वेसा िमल ता है , जो जैसी नीयत रखता है ।।


Üयारा सजा है तेरा Ʈार भवानी - 2
16

बड़ा Ûयारा सजा है तेरा Ʈार भवानी - 2
भगतɉ कȧ, यहाँ भगतɉ को तेरे भगतɉ कȧ लगी है कतार भवानी - 2
बड़ा Üयारा सजा है तेरा Ʈार भवानी - 2

ऊँ चे पव[ त भवन िनराला - 2 ओ ऊँ चे............- 2
आके -शीश नवावे संसार भवानी - 2 तेरे भगतो कȧ....................

जगमग-जगमग जोत जगे है -4
तेरे चरणɉ मɅ गं गा कȧ धार भवानी - 2 तेरे भगतɉ कȧ..............

लाल चुनǐरया, लाल लाल चूड़ा -4
गले लाल फू लɉ के साहे हार भवानी - 2 बड़ा Üयारा...........

ओ, सावन महȣना मै या झूला झूले - 4
तेरे , खुले दया के भंडार भवानी -2 Üयारा सजा................

लÉखा को है तेरा सहारा, माँ हम सबको है तेरा सहारा
करदे अपने सरल का बे ड़ा पार भवानी बड़ा Üयारा............

12 12 12 12. .. .मन मन मन मन उपवन के फू ल माँ तु मको चढ़ाऊँ कै से उपवन के फू ल माँ तु मको चढ़ाऊँ कै से उपवन के फू ल माँ तु मको चढ़ाऊँ कै से उपवन के फू ल माँ तु मको चढ़ाऊँ कै से
मन उपवन के फू ल माँ तुमको चढ़ाऊँ कै से
हमतो पहाड़ɉ कȧ गुफ़ाओं मɅ तुमको हȣ ढूँढा करते हɇ
हो माँ तुमको हȣ ढूँढा करते हɇ

17

कहाँ छु प गई है मैया हमारȣ,कहाँ खोगई है माँ ममता तुàहारȣ
चैन नहȣं बैचैन मेरा मन मɅ लगन है Ǒक दश[ न हो तेरा
ढूँढूँ कहाँ आजा तू माँ हमतो पहाड़ɉ कȧ गु फ़ाओं मɅ
तुमहȣ को ढूँढा करते हɇ

करदो माँ पूरȣ इÍछा हमारȣ,सǑदयɉ से रोए माँ अँǔखयाँ हमारȣ
आजा तू माँ ढूँढूँ कहाँ । हमतो पहाड़ɉ कȧ ……………

टे ढ़ȣ डगर है माँ लàबा सफ़र है
तेरा हाथ सर पे माँ हमɅ Èया Ǒफ़कर है
आजा तू माँ ढूँढूँ कहाँ हमतो पहाड़ɉ कȧ गुफ़ाओं मɅ
तुमहȣ को ढूँढा करते हɇ हो माँ तुमहȣ को ढूँढा करते हɇ

13 13 13 13. . . . माँ माँ माँ माँ शे रावाली शे रावाली शे रावाली शे रावाली
ओ माँ द

गȶ माँ ओ माँ अàबे माँ
तेरे भƠो ने Èया खूब दरबार सजाया है
फू लो का भåय ^ृ ं गार कराया है
लाल चुनǐरया माथे तेरे पहनाई है
मैया भƠो ने Èया खू ब दरबार सजाया है
जो भी तेरे Ʈारे आए , Ǒदल से जो तु झे पुकारे
मनत उसकȧ पूरȣ हो जाए
ओ माँ शेरावाली ओ माँ मेहरावाली
सुन के भƠो कȧ पुकार आई होके तू िसंह पे सवार
लेके आई आँचल भर खु िशयɉ कȧ सɉगात
ओ माँ शेरावाली ओ माँ मेहरावाली
18

जब जब भƠो ने पुकारा तू दोडȣ चली आई है
माँ तुने ममता भरȣ द

आवो से भƠो को नवाजा है
ओ माँ द

गȶ माँ ओ माँ अàबे माँ


14 14 14 14. .. . बस इक बार तु भी आजा ऐ माँ मेरे घर पे बस इक बार तु भी आजा ऐ माँ मेरे घर पे बस इक बार तु भी आजा ऐ माँ मेरे घर पे बस इक बार तु भी आजा ऐ माँ मेरे घर पे .. .. .. ..- -- -

हर साल मɇ आता ह

ँ मैया तेरे दर पे..२
इक बार तु भी आजा ऐ माँ मेरे घर पे..२
मै तेरȣ Ïयोत जागउँ गा चुनडȣ लाल चढ़ाउगा..२
पूजा का थाल सजा मɇ तेरȣ आरती गाउँ गा
आप भी आना अपने संग मɅ िशवशंभु को भी लाना मै या..
िशवशंभु को भी लाना....२
माँ गणपती हनुमान और भैरव नाथ को नहȣU भु लाँना
भैरव नाथ को नहȣU भु लाँना...२
आप भी आना अपने संग मɅ भौलेनाथ
गणपती हनुमान और भैरव नाथ को नहȣU भुलाँना..२
ना आई तो मारे ताना ये द

िनयाँ इस नर पे
इक बार तु भी आजा ऐ माँ मेरे घर पे..२
मै तेरȣ Ïयोत जागउँ गा चुनडȣ लाल चढ़ाउगा..२
पूजा का थाल सजा मɇ तेरȣ आरती गाउँ गा
तुम गाय]ी तुम साव]ी तुम लΊमी ΰàहाणी..२ मैया
शारदा माता हो पाव[ ती हो काली कãयाणी माता..२
तुम गाय]ी तुम साव]ी तुम लÈशमी ΰàहाणी..२ मैया
शारदा माता हो पाव[ ती हो काली कãयाणी माता..२
तेरȣ दया से चाँद और सुरज चमके अँबर पे
बस इक बार तु भी आजा ऐ माँ मेरे घर पे..२
मै तेरȣ Ïयोत जागउँ गा चुनडȣ लाल चढ़ाउगा..२
19

माँ पूजा का थाल सजा मɇ तेरȣ आरती गाउँ गा..
पूरȣ करना मेरȣ मुरादे लÉखा लाल तुàहारा मात
माँ लÉखा लाल तुàहारा
तुम भƠɉ कȧ सुनती आई हɇ ǒवƳास हमारा मै या
हɇ ǒवƳास हमारा माता...२
पूरȣ करना मेरȣ मुरादे लÉखा लाल तुàहारा माता
माँ लÉखा लाल तुàहारा
तुम भƠɉ कȧ सुनती आई हɇ ǒवƳास हमारा मै या
हɇ ǒवƳास हमारा माता...२
अब हाथ दया का माँ रख बाल के सर पे
बस इक बार तु भी आजा ऐ माँ मेरे घर पे..२
मै तेरȣ Ïयोत जागउँ गा चुनडȣ लाल चढ़ाउगा..२
माँ पूजा का थाल सजा मɇ तेरȣ आरती गाउँ गा..

15 15 15 15. . . . माता ओ माता पहा माता ओ माता पहा माता ओ माता पहा माता ओ माता पहाडɉवाली माता डɉवाली माता डɉवाली माता डɉवाली माता

आऊँ गी आऊँ गी मɇ अगले बरस Ǒफर आऊँ गी

लाऊँ गी लाऊँ गी तेरȣ लाल चुनǐरयाँ लाऊँ गी.....२

तेरȣ मǑहमा सुनते हɇ तेरȣ मǑहमा गाते हɇ

आँख मɅ आँ सू लाते हɇ मोती लेकर जाते हɇ |....२

पव[ त पे है डे रा ऊँ चा मंǑदर तेरा

20

तेरȣ शरण मɅ आ के जागा जीवन मेरा

जय शेरावाली दȣ जय मेहरावाली दȣ...२

जय माता रानी कȧ

माता ओ माता पहाडɉवाली माता...२

मन मɅ हɇ तेरȣ भƠȧ हम जाने तेरȣ शǒƠ

दु खः Èया हɇ दु खः कȧ छाया ये हमको छु नहȣं सकती

ǔजतनी शǒƠशाली उतनी हȣ तु भोली

ǒबन मांगे हȣ तु ने भर दȣ मेरȣ झोली

जय Ïयोतावाली दȣ जय लाटा वाली दȣ ..२

जय माता रानी कȧ

आऊँ गी आऊँ गी मɇ अगले बरस Ǒफर आऊँ गी

लाऊँ गी लाऊँ गी तेरȣ लाल चुनǐरयाँ लाऊँ गी.....२


तन पूजा कȧ थाली साβगी हɇ मन कȧ

माँ तेरे चरणɉ मɅ भɅट है िनध[ न कȧ
21


जय भवँरावाली दȣ जय छ]वाली दȣ

जय माता रानी कȧ

माता ओ माता पहाडɉवाली माता

आऊँ गी आऊँ गी मɇ अगले बरस Ǒफर आऊँ गी

लाऊँ गी लाऊँ गी तेरȣ लाल चुनǐरयाँ लाऊँ गी.....२

तेरȣ मǑहमा सुनते हɇ तेरȣ मǑहमा गाते हɇ

आँख मɅ आँ सू लाते हɇ मोती लेकर जाते हɇ |

You're Reading a Free Preview

Download
scribd
/*********** DO NOT ALTER ANYTHING BELOW THIS LINE ! ************/ var s_code=s.t();if(s_code)document.write(s_code)//-->