फूल-मोहनी-मऽ

Page 1 of 1

Vadicjagat.com
know more about………
Search on this blog...

• Home
• ान कसौट
• Site Map

फूल-मोहनी
ल मोहनी-मऽ
मोहनी मऽ
Posted by aspundir
November 26, 2011

flower attraction mantra
Print

Email

Post

Republish

फूल-मोहनी
ल मोहनी-मऽ
मोहनी मऽ
मऽःॐ नमो आदे श गु को । एक फूल,
मऽः “ॐ
ल फूल भर दोना,
दोना च!सठ जोगनी ने िमल कया टोना । फूल-फ
ल फूल
घेर दे आनी । जो सूँघे इस फूल क+ बास,
वह फूल न जानी,
जानी हनुमत वीर घेर-घे
बास उसका जी ूाण रहे हमार पास
। सूती होय,
होय तो जगाइ लाव,
लाव बै
ठ2 होय,
होय तो उठाइ लाव । और दे खे, जरे -बरे । मोहे दे ख, मेरे पायन परे ।
मेरभ56, 
भ56 गु क+ श56 । फुरो मऽ,
मऽ ई8रो वाचा । वाचा वाची से टरे , कु9भी नरक म: परे ।”
ूयोग एवं5विधः5विधः अ>छ2 तरह से जले, उतने ूमाण से एक घी का दया जलाए । दप का 5विधवत ् पूजन कर:
। िनAय मऽ का 114 बार ‘जप ’ करे । इस ूकार 21 दन तक करने से मऽ िसB होगा । बाद म: सोमवार के 
दन इस मऽ को कसी भी फूल पर 21 बार पढ़कर फूँके । फूँकने के बाद साDय को सुँघावे या सूँघने को दे ।
साDय मन-ह-मन, आपके ूित मोहत होगा । अ>छे कायE म: इस ‘मऽ’ का ूयोग कर: । बाद म: ूयोग
छोड़ द: , केवल मऽ का ःमरण करता रहे । आवँयकता पड़ने पर ह ‘ूयोग’ करे , अयथा िस5B गायब हो
जाएगी ।
Click here for reuse options!
Copyright 2011 Vadicjagat.com

शाबर मऽमोहनी-मऽ
Did you enjoy this post? Why not leave a comment below and continue the conversation, or
subscribe to my feed and get articles like this delivered automatically to your feed reader.

http://vadicjagat.com/?p=1274

2011/12/04

Sign up to vote on this title
UsefulNot useful