लखनऊ में तंबाकू, अन्य स्वास््य एवं ववकास नीततयों के

परिपालन पि रिपोर्ट कार्ट

30 मई 2012

अधिकार एवं दायित्व ग्रीष्म-प्रशिक्षण शिववर के िुवा प्रयिभागी (15)

अशभषेक चौिरी, अंकुर वमाा, दीपक कुमार शमश्रा, ददिा पांड,े दििेि पांड,े राकेि, रूपेि वमाा,
संजि कुमार वमाा, शिखर अगरवाल, शिखा श्रीवास्िव, सवेि िक्
ु ल, सत्िम यिवारी, िभ
ु ाम
द्वववेदी, सौम्िा अरोरा, उददिा चंद्रा

अधिकाि एवं दातयत्व शिववि के प्रशिक्षणकताट

प्रोफेसर (डॉ) रमा कान्ि, डॉ संदीप पांड,े िोभा िुक्ला, डॉ शिवानी िमाा, प्रोफेसर (डॉ) गौरदास
चौिुरी, बीजू मोिन, रािुल द्वववेदी, बाबी रमाकांि

यह िपर् कार्ट कुछ प्रततभाधियों औि प्रशिक्षणकताटओं ने शमलकि बनाया है

हमने कौन सी स्वास््य औि ववकास नीततयों का आंकलन ककया औि क्यों?

1.

तंबाकू तनयंत्रण कानून

शसगरे ट एवं अन्ि िम्बाकू उत्पाद अधियनिम, २००३, एक सरािनीि व्िापक िम्बाकू

यनिंत्रण कानन
ू िै और इिना व्िापक िम्बाकू यनिंत्रण कानन
ू ववश्व के कुछ िी दे िों में

िै . परन्िु इसका पररपालन बिुि कमजोर िरीकों से ककिा जा रिा िै . भारि के स्वास््ि
एवं पररवार कल्िाण ववभाग ने नवम्बर २००८ में ददल्ली के सूचना आिोग को सूचना
अधिकार अधियनिम के ििि आवेदन पत्र के जवाब में िि बिािा था कक तम्बाकू

उद्योि के दबाव के कािण वो िम्बाकू यनिंत्रण कानून सख्िी से लागू निीं कर पा रिी िै
- बिाइए, सरकार अब उद्िोग के दबाव में जन-दििैषी कानन
ू लागू निीं कर पा रिी िै !
िम लोगों ने शसगरे ट एवं अन्ि िम्बाकू उत्पाद अधियनिम, २००३, के इन यनिमों के
पररपालन को लखनऊ के कुछ क्षेत्रों में आँकााः

१) ककसी भी िैक्षक्षक संस्थान के १०० गज के भीिर िम्बाकू ववक्रि पर प्रयिबन्ि
२) िम्बाकू उत्पादनों पर धचत्रमि चेिावनी
३) िंबाकू ववज्ञापन – प्रत्िक्ष िा अप्रत्िक्ष

४) ‘पॉइंट-ऑफ-सेल’ िा िंबाकू ववक्रि स्थानों पर िंबाकू ववज्ञापन

५) ववदे िी शसगरे ट जो लखनऊ में बबक रिी िैं पर उनपर धचत्रमि चेिावनी निीं िै

2. साफ-सफाई औि स्वच्छता:

िमारा मानना िै कक कूड़े-कचरे को िदद आवासीि क्षेत्रों में पड़े रिने दें गे िो बीमाररिाँ
बढ़ें गी। िम लोगों ने ििर में अनेक अवसीि क्षेत्रों में सड़क के कानारे कूड़े-

कचरे के ढे र दे खे जो अवांछनीि िैं। प्लास्स्टक िा पोशलथीन भी इिर-उिर
पड़ी शमली। िि िम नागररकों के स्वास््ि के शलए िायनकारक िो सकिा िै ।
3. ििाब ववज्ञापन

िालांकक िराब के ववज्ञापन पर प्रयिबंि िै परं िु िमारा मानना िै कक ऐसे
उत्पाद स्जनका ब्ांड-नाम िराब उत्पाद के ब्ांड-नाम वाला िी िै , उनके

ववज्ञापन करने से िराब को बढ़ावा शमलिा िै । िमने ििर में अनेक ऐसे बोडा
दे खे स्जनमें िराब के ब्ांड नाम वाले गैर िराब उत्पाद के ववज्ञापन लगे थे
जैसे कक सोडा पानी, संगीि, आदद।
4. चच्वंि िम

िमने लखनऊ में बबक रिे अनेक स््वंग गम का आंकलन ककिा और उनका
सामाग्री, िग
ु र, नोदटस िा चेिावनी, आदद पर गौर ककिा।

िैक्षक्षक संस्थानों के १०० यार्ट के भीति हो िहा तंबाकू ववक्रय
िालांकक शसगरे ट एवं अन्ि िंबाकू उत्पाद अधियनिम 2००३ के अनुसार ककसी भी

िैक्षक्षक संस्थान (स्कूल, कॉलेज, कोधचंग, ट्िूिन केंद्र, ववश्वववद्िालि आदद) के १००
िाडा के भीिर िंबाकू ववक्रि प्रयिबंधिि िै परं िु इस कानून को ईमानदारी से लागू
निीं ककिा जा रिा िै ।

अप्रत्िक्ष िंबाकू ववज्ञापन

िमारा मानना िै कक गैर-िंबाकू उत्पाद (जैसे कक सदा पान मसाला) और िंबाकू उत्पाद का एक िी ब्ांड
नाम निीं िोना चादिए वरना िंबाकू उत्पाद ब्ांड नाम वाले सादे पान मसाले के ववज्ञापन पर रोक लगे।

िर िंबाकू उत्पाद पर धचत्रमि चेिावनी कानन
ू न जरूरी िै

पॉइंर् ऑफ सेल (तंबाकू ववक्रय का स्थान) पि तंबाकू ववज्ञापन
िंबाकू के ववक्रि के स्थान पर बोडा का अनुमयि िै परं िु िि बोडा शसफा ६० सेमी
ऊपर २० सेमी

x ४५ सेमी का िो,

x १५ सेमी का चेिावनी िो, और उसपर शसफा िि शलखा िो कक ककस प्रकार का िंबाकू

बबकिी िै (बीड़ी, शसगरे ट, गुटखा, आदद) और कोई िस्वीर, ब्ांड, िंबाकू उत्पाद का िस्वीर आदद न
िो। शसगरे ट एवं अन्ि िंबाकू उत्पाद अधियनिम, २००३, के इस प्राविान का उलंघन िो रिा िै :

बबना धित्रमय िेतावनी के बबक िही हैं कुछ ववदे िी शसििे र्

कुछ ववदे िी शसगरे ट के पाकेट पर कानूनन जरूरी धचत्रमि चेिावनी िी निीं थी।

साफ-सफाई औि स्वच्छता

ििाब ववज्ञापन

जब िम िराब के ब्ांड-नाम वाले गैर िराब उत्पाद के ववज्ञापन दे खिे िैं (सोडा
वॉटर,म्िूस्जक नाइट, आदद) िो ककस उत्पाद से उसे जोड़िे िैं? िराब िा गैर िराब?
आप फैसला करें !

चच्वंि िम
िम लोगों को बड़ा आश्चिा िुआ कक अधिकांि स््वंग गम पर उसका सामाग्री और अन्ि मित्वपूणा
जानकारी जैसे कक “सलाि िै कक ब्चे इसको न खाएं” आदद, बिुि छोटे मिीन और पढ़ने में मुस्श्कल
वाले रं गों से शलखी पािी गिी। आप स्विं स््वंग गम के पाकेट पर शलखी जानकारी पढ़ने का प्रिास
करें ।

सझ
ु ाव

चँकू क अधिकाँि िम्बाकू सेवन १८ साल से पिले आरं भ िोिा िै , िि
अयिआवश्िक िै कक १८ साल से कम उम्र के ब्चे और िुवाओं को िम्बाकू

न िो बेचनी चादिए और न िी खरीदनी. इस कानून को सख्िी से लागू करने
पर जो ब्चे और िुवा िम्बाकू सेवन आरं भ कर रिे िैं उनका संख्िा में भारी
धगरावट आ सकिी िै जो जन-दििैषी रिे गी. दस
ू रा सवाल िि िै कक शिक्षा

अधिकार अधियनिम के िुग में १८ साल से कम उम्र के ब्चे और िुवा क्िों
िम्बाकू बेचने पर वववि िैं? वें शिक्षा क्िों निीं प्राप्ि कर पा रिे िैं? बिुि कम
िम्बाकू दक
ु ानों पर िि बोडा लगा िै कक १८ साल से कम उम्र के ब्चे और
िुवाओं का िम्बाकू खरीदना प्रयिबंधिि िै .

ककसी भी िैक्षक्षक संस्थान के १०० गज के भीिर िम्बाकू ववक्रि प्रयिबंधिि िै
- इसको सख्िी से पररपाशलि करना चादिए.

जो ववदे िी शसगरे ट लखनऊ में बबक रिी िै , जैसे कक गुदंग गरम (इंडोनेशसिा),

मालाबोरो (अमरीका), ब्लाक (इंडोनेशििा), आदद, उनमें से कुछ पर कोई भी
धचत्रमि चेिावनी क्िों निीं िै ? िदद वो कानूनन रूप से आिाि का गिी िैं िो
उनको भारिीि कानून का अनुपालन करना चादिए और िदद वो कानूनन रूप
से आिाि निीं का गिी िैं िो न केवल भारि के लोगों के स्वास््ि पर
कुप्रभाव पड़ रिा िै बस्ल्क भारि को (और स्जस दे ि वो बन रिी िै उसको)

राजस्व का भी नुक्सान िो रिा िै . क्िा िि िम्बाकू िस्करी िै ? िदद िै िो
इसके खखलाफ सख्ि कारवाई िोनी चादिए। इसका जांच अधिकाररिों – प्रिासन
को करनी चादिए और उधचि कदम उठाने चादिए।

िम लोगों को अधिक सख्ि कानून चादिए स्जससे कक स्जन िंबाकू वाले गुटखे

और उनके सादे पान मसाले का एक िी ब्ांड नाम िै , उनके ववज्ञापन पर
प्रयिबंि लगे। गौर करने का बाि िि िै कक जब कोई व्िस्क्ि ब्ांड नाम
दे खिा िै िो ककस उत्पाद से उसे जोड़िा िै (िंबाकू िा गैर-िंबाकू)?

िम लोगों को अधिक सख्ि कानन
ू चादिए स्जससे कक स्जन िराब और गैरिराब उत्पादों का एक िी ब्ांड नाम िै , उनके ववज्ञापन पर प्रयिबंि लगे। गौर

करने का बाि िि िै कक जब कोई व्िस्क्ि ब्ांड नाम दे खिा िै िो ककस
उत्पाद से उसे जोड़िा िै (िराब िा गैर िराब)?

स््वंग गम पर साफ, बड़े नाप िा आकार से, पढ़ने में आसान रं ग से, मित्वपूणा

जानकारी शलखी िोनी चादिए। िि जानकारी स्थानीि भाषा में भी छपी िोनी चादिए।

कूड़े-कचरे का यनिशमि प्रबंिन वैज्ञायनक और प्रमाखणि ढं ग से ििर के िर

आवासीि क्षेत्र में ऐसे िोना चादिए कक न िो पिाावरण और न िी जन
स्वास््ि पर कोई कुप्रभाव पड़े।

अधिक जानकािी के शलए संपकट किें :

डॉ संदीप पांड,े िोभा िक्
ु ला, रािुल द्वववेदी, बाबी रमाकांि
सी-२२११, सी-ब्लॉक चौरािा, इस्न्दरा नगर, लखनऊ-२२६०१६। इंडडिा
फोन: +91-9839073355

ईमेल: bobbyramakant@yahoo.com

Master your semester with Scribd & The New York Times

Special offer for students: Only $4.99/month.

Master your semester with Scribd & The New York Times

Cancel anytime.