You are on page 1of 2

Newspaper Clipping Service

National Documentation Centre (NDC)

म -ां बच्चे की हे ल्थ

अब दे शभर में म ां-बच्चे की सेहत सुधरे गी (Navbharat Times-23 July 2010)

नई ददल्री।। भ ां-फच्चे की हे ल्थ के मभरेननमभ डिवेरऩभें ट गोर (एभिीजी) को ऩयू कयने के मरए सयक य
को प्र इव ेेट ऩ टट नयमिऩ क सह य मभर गम है। भेयी स्टोप्स इांटयनैिनर (एभएसआई) ने दनु नम बय के
40 दे िों के स थ ब यत भें बी फडे ऩैभ ने ऩय प्रोग्र भ की िुरुआत की है ।

एभएसआई की सीननमय यीजनर ि मये क्टय िॉ. म स्भीन एच. अहभद ने फत म कक सोिर फ्रेंच इजी के
कॉन्सेप्ट के तहत सांस्थ दे ि के उन इर कों भें क भ कये गी, जह ां पैमभरी प्र ननांग औय भ ां की दे खब र
की अच्छी सुववध एां नहीां हैं। इन सेव ओां को फेहतय फन ने के मरए उन सयक यी प्र इभयी हे ल्थ सेंटयों को
सांस धन औय ट्रें ि स्ट प से भजफूत फन म ज एग जह ां इन चीजों की कभी है । स थ ही, जह ां सयक यी
सेंटय नहीां हैं वह ां उन रोगों को ट्रें ि ककम ज एग , जो आधी-अधयू ी ट्रे ननांग रेकय प्रैक्क्टस कय यहे हैं।

स थ ही, जह ां िॉक्टयों की कभी है वह ां ऩैय भेडिकर स्ट प को पैमभरी प्र ननांग क मटक्रभों की ट्रे ननांग दी
ज एगी, जैस कक कई दे िों भें हो यह है। इससे भदहर ओां के ऩ स ज्म द ववकल्ऩ उऩरब्ध होंगे औय हभ ये
ऩ स एक ट्रें ि व सुववध सांऩन्न नेटवकट तैम य हो ज एग । सांस्थ इन सेंटयों की रग त य भॉननटरयांग बी
कये गी त कक क्वॉमरटी के स थ कोई सभझौत न हो। ख स फ त मह है कक इस सफके मरए अरग से कोई
च जट नहीां रगेग ।

सांफांधधत सेंटय भयीजों से अऩने ऩहरे से ननध टरयत च जेज ही वसर
ू ेग । सवु वध ओां की ऩहुांच हय भदहर तक
हो इसके मरए एक कॉर सेंटय िरू ु बी ककम गम है , जो कक 15 अगस्त के फ द क भ कयन िरू ु कय
दे ग । पैमभरी प्र ननांग औय भ ां औय फच्चे दे खब र के मरए ग्र भीण औय वऩछडे इर कों भें कौन से अच्छे
सेंटय हैं, इसकी ज नक यी कॉर सेंटय के नांफय-18001039993 से री ज सकेगी।

िॉ. म स्भीन के भुत बफक ब यत भें पैमभरी प्र ननांग के ननमभ फहुत अच्छे हैं, भगय अबी बी इनकी ऩहुांच
क पी कभ भदहर ओां तक है । 20 ऩसेंट भदहर एां स यी ज नक यी होने के फ वजद ू हे ल्थ सेंटय आदद की दयू ी
के चरते उऩ मों को अऩन नहीां ऩ तीां। मही वजह है कक भ ां-फच्चे की हे ल्थ के भ भरे भें हभ मभरेननमभ
डिवेरऩभें ट गोर को ऩूय कयने भें क भम फ होते नहीां नजय आ यहे हैं।

उन्होंने फत म कक अगय हय ककसी तक पैमभरी प्र ननांग के अच्छे ववकल्ऩ भुहैम कय ददए ज एां तो एक
नतह ई भ ांओां की भौत को योक ज सकत है । य जस्थ न जैसे कई य ज्मों भें 10 ऩसेंट भ ांओां की भौत की
वजह अनसेप अफॉिटन (असुयक्षऺत गबटऩ त) है, क्जसे योकन क पी आस न है । उन्होंने फत म कक सांस्थ ने
2010 भें दे िबय के 50 हज य इांक्स्टट्मूिन के डिवेरऩभें ट के मरए 10 र ख मूएस िॉरय खचट कयने की
मोजन फन ई है औय अगरे 3 स रों भें 2 र ख 50,000 तक सुववध एां ऩहुांच ने के मरए 50 र ख मूएस िॉरय
खचट कयने क प्र न है । ऩ मरट प्रोजेक्ट के तहत य जस्थ न के 13 क्जरों भें प्रोग्र भ िुरू कय ददम गम
है ।