You are on page 1of 1

Newspaper Clipping Service

National Documentation Centre (NDC)

रूरल हे ल्थ

रूरल हे ल्थ में महहलाओं की होगी अहम भूममका (Navbharat Times-13 July 2010)

नई ददल्री ।। भदिराओं को एक औय भोर्चे ऩय अिभ बमू भका दे ने की तैमायी की जा यिी िै
। मि भोर्चाा िै रूयर िेल्थ का। इंडडमन भेडडकर असोमसएशन औय डॉक्टयों के अन्म संगठनों के कडे
वियोध के फािजूद सयकाय फीआयएर्चसी (फैर्चरय ऑप रूयर िे ल्थ केमय) मोजना को अभरी जाभा ऩिनाने
की ददशा भें तेजी से आगे फढ़ यिी िै । िि इसभें भदिराओं को 30 पीसदी आयक्षण दे ने ऩय बी ऩूयी
मशद्दत के साथ किामद कय यिी िै ।

सूत्रों के भुताबफक, इस मोजना का मसरेफस तैमाय कयने की जजम्भेदायी भेडडकर काउं सर ऑप इंडडमा को
दे ने की तैमायी की जा यिी िै । साढ़े तीन सार के इस फैर्चरय कामाक्रभ के मरए जजरा अस्ऩतारों को िी
भेडडकर कॉरेज का दजाा दे ददमा जाएगा।

दे श भें इस सभम कयीफ डेढ़ राख स्िास््म उऩकेंद्र िैं, जो बफना डॉक्टयों के र्चर यिे िैं। इनकी कभान
दाइमों औय अनट्रें ड स्टाप के िाथ भें िै । इसके कायण ग्राभीण इराकों भें स्िास््म सेिाओं की िारत
फदतय िै । फीआयएर्चसी स्कीभ के स्नातकों को भान्मता प्राप्त विश्िविद्मारम की डडग्री दी जाएगी। इनको
डॉक्टय का ऩद ददमा जाएगा मा रूयर िे ल्थ प्रैजक्टशनय अथिा रूयर िे ल्थ ऑफपसय किा जाएगा, इस ऩय
बी विर्चाय फकमा जा यिा िै ।

इस मोजना के स्नातकों को शियी इराकों भें प्रैजक्टस कयने की अनभ
ु तत निीं िोगी। इन्िें ट्रॉभा, डडरीियी
औय साभान्म फीभारयमों का इराज कयने के मरए िी दक्ष फकमा जाएगा। फपजजक्स, केमभस्ट्री औय फामरॉजी
से 12िीं ऩास मि
ु ा इस मोजना के मरए ऩात्र िोंगे। केंद्रीम स्िास््म भंत्री गर
ु ाभ नफी आजाद इस कोसा के
मरए प्रिेश ऩयीक्षा के ऩक्ष भें िैं।

सयकाय जिां इस मोजना को रेकय कापी उत्सादित िै , ििीं डॉक्टयों के संगठन रगाताय इसका वियोध कय
यिे िैं। इंडडमन भेडडकर असोमसएशन के जॉइंट सेक्रेट्री डॉ. अतनर फंसर का किना िै फक मि र्चन
ु ािी
शगूपे से ज्मादा कुछ निीं िै । िि सिार कयते िैं फक जफ एक एभफीफीएस डॉक्टय ऩांर्च सार की कडी
भशक्कत के फाद डडग्री ऩाता िै तो फीआयएर्चसी के स्नातक साढ़े तीन सार भें भयीजों का इराज कयने भें
कैसे दक्ष िो जाएंगे? िि इस मोजना को जनता के साथ खखरिाड कयाय दे ते िैं। इस भसरे ऩय केंद्रीम
स्िास््म सचर्चि के. सुजाता याि से फात कयने की कोमशश की गई, भगय िि उऩरब्ध निीं िुईं।